2019 से पहले मोदी सरकार को झटका, किसानों के लिए महाराष्ट्र की इस पार्टी ने NDA का साथ छोड़ा

आगामी 2019 के आम चुनावों के लिए तमाम राजनीतिक दल एक दूसरे का साथ जोड़ रहे हैं। वहीं सत्ताधारी एनडीए से वादाखिलाफी का आरोप लगाकर राजनैतिक दल नाता तोड़ रहे हैं।

महाराष्ट्र के स्वाभीमानी शेतकारी संगठन ने एनडीए का साथ छोड़ दिया है। शेतकारी संगठन के सांसद राजू शेट्टी ने मोदी सरकार पर किसानों की अनदेखी का आरोप लगाया है।

राजू शेट्टी ने कहा कि, मोदी सरकार ने देश के किसानों के साथ धोखा किया है। वादाखिलाफी की है। सरकार बनने से पहले किसानों के लिए तमाम वादे किए थे। लेकिन वह एक भी पूरे नहीं हुए हैं। मिनिमम सेलिंग प्राइस (एमएसपी) का वादा किया गया था लेकिन सुप्रीम कोर्ट में केंद्र सरकार पलट गई थी।

किसानों को काफी मुश्किलें हो रही हैं. किसानों द्वारा आत्महत्या करने की घटनाएं बढ़ रही हैं। देशभर में किसान आत्महत्या कर रहे हैं। मोदी सरकार चुप्पी साधे बैठी है। राजू शेट्टी ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फणनवीस को त्यागपत्र सौंप दिया है।


साढ़े तीन साल से किसानों की हालात नहीं बदली

– राजू शेट्टी ने कहा- “हमें बीजेपी पर भरोसा था कि, किसानों की स्थिति को बदलने में यह सरकार कुछ न कुछ जरूर करेगी लेकिन साढ़े तीन सालों में किसानों की हालत नहीं बदली। हमें राजनीति नहीं करनी है, हमारे फैसले से राजनीतिक नुकसान होगा या फायदा इसका विचार संगठन ने नहीं किया है।”

– “किसानों का कर्ज माफ, स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशें जैसे मुद्दे को लेकर सरकार के साथ संगठन का मतभेद भी हुआ था।”

– ” हमारे पार्टी के लोग राज्य सरकार के सभी पदों से इस्तीफा दे देंगे। देशभर के किसान संगठनों की एक समिति बनाई गई है। जल्द ही सभी किसान संगठन एक होकर मोर्चा निकालने वाले हैं।”

– बता दें कि राजू शेट्टी के सबसे करीबी माने जाने वाले राज्य कृषि मंत्री सदाभाउ खोत ने हाल ही में संगठन का साथ छोड़कर बीजेपी का दामन थामा है।

loading...