देखिये शिक्षा मंत्री प्रकाश जावडेकर अपनी बेटी की उम्र की लडकियों के साथ पार्टी करते पकड़े गए

नरेंद्र मोदी ने साबित कर दिया की वो भारत के असफल प्रधान मंत्री है। असफल प्रधान मंत्री की शुची में सिर्फ एक ही नाम आया है मोदी जी। केंद्रीय मंत्रियों ने अपनी पसंद से चूना की उनको कोनसा मंत्री बनना हैं, और सब ने ये भी दिखा दिया की वो इन पदों के लायक नहीं है। बहुत सारे नेता अलग अलग गैर क़ानूनी कामो में पकड़े गए है।

हाल ही में इंटर नेट पर वायरल हो रही शिक्षा मंत्री प्रकाश जावडेकर की पार्टी में शराब की बोतल खोलते हुए और लडकियों के साथ पार्टी करते हुए। बीजेपी संस्कृति, संस्कार, नैतिकता, सुचिता की बड़ीबड़ी बातें करते हैं। ये सब कर के प्रकाश जावडेकर कोनसा संस्कार दिखा रहे है। बीजेपी के नेता ये सोचते है, की वो अब सत्ता में तो कुछ भी कर सकते है।

प्रकाश जावडेकर भारत के मानव संसाधन और शिक्षा मंत्री है शिक्षा मंत्री एक प्रेरणादायक इंसान होता है। न की एसी पार्टी करने लायक। बच्चो को इन्हें देख कर ही प्रेरणा मिलती है। जब यही ऐसा काम करेंगे तो बच्चे क्या सीखेंगे।

प्रकाश जावडेकर शिक्षा मंत्री का पद 5 जुलाई 2016 को लिया था। उससे पहले स्मृति ईरानी शिक्षा मंत्री थी। उसके भी यही हाल थे। फर्जी डिग्री के मामले में उनपर क़ानूनी कार्येवाही हो गयी। बीजेपी के नेता किसी भी पद के लायक है या नहीं अब ये जनता फेसला करेगी और देश के हित में वोट देगी।

loading...