दिल्ली यूनिवर्सिटी में NSUI की शानदार जीत, लोग बोले- ये जीत गोडसे पर गाँधीजी की विचारधारा की जीत है

दिल्ली यूनिवर्सिटी में चुनाव के नतीजे घोषित हो गए हैं। दो सीटों पर NSUI और दो सीटों पर ABVP जीत गई है। प्रेसिडेंट, वाइस प्रेसिडेंट पद पर NSUI प्रत्याशी जीत गए हैं। जबकि सेक्रेटरी और ज्वाइंट सेक्रेटरी पद पर ABVP ने जीत हासिल की है।

प्रेसिडेंट के लिए NSUI ने रॉकी तुसीद के अपना उम्मीदवार बनाया था। मतदान के लिए करीब 126 EVM मशीन का इस्तेमाल हुआ था। 2014 के बाद ऐसा पहली बार हुआ है जब तीन सीटें NSUI के झोली में आई है।

दिल्ली यूनिवर्सिटी के छात्रसंध चुनाव में एनएसयूआई ने जैसे ही जीत हासिल की। सोशल मीडिया पर #NSUIwinsDU ट्रेंड करने लगा आम से लेकर खास सब अपनी प्रतिक्रिया देने लगे कोई इसे नफरत की राजनीत करने वालों की हार मान रहा तो कोई एबीवीपी की पर चुटकी ले रहा है।

एबीवीपी की हार पर चुटकी लेते हुए आदिल में लिखा कि,

वही दिल्ली यूनिवर्सिटी की प्रेसिडेंट रह चुकी रागनी नायक ने ट्वीट कर ख़ुशी जाहिर करते हुए लिखा की ये राजनीति में नफरत, हिंसा पर जीत है।

वही समाजवादी पार्टी की प्रवक्ता पंखुड़ी पाठक ने लिखा कि सबसे बड़ा सवाल ये कि क्या मीडिया एबीवीपी की हार पर चर्चा करेगी।

वही माधुरी ने लिखा कि एबीवीपी को अब नए स्लोगन के साथ आना चाहिए।

कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने लिखा कि, कल से घमंड था आज चूर-चूर हो गया यही हाल 2019 में भी रहेगा।

शिवम् ने लिखा कि पंजाब राजस्थान और अब दिल्ली हर जगह NSUI की जीत हवा बदल रही है, युवा विकास चाहता है जुमले नहीं।

वही रजत ने लिखा कि ये जीत गोडसे, हिल्टर पर गाँधी जी की विचारधारा की जीत है।

SHARE
loading...